Home वीडियो Fact Check : क्या मायावती ने नरेंद्र मोदी को वोट देने की...

Fact Check : क्या मायावती ने नरेंद्र मोदी को वोट देने की अपील की है ? क्या है वायरल वीडियो का सच?

इस वायरल वीडियो में सुना जा सकता है कि बसपा अध्यक्ष मायावती कह रही हैं कि श्री नरेंद्र मोदी जी ने आपको फ्री में राशन दिया है, आपको ये कर्ज़ इस चुनाव में वोट के रूप में अदा करना है।

34
0
blank
www.theshudra.com

क्या बसपा अध्यक्ष मायावती ने नरेंद्र मोदी को वोट देने की अपील की है? सोशल मीडिया पर एक वीडियो क्लिप वायरल होने के बाद ये सवाल पूछा जा रहा है। 

इस वीडियो में सुना जा सकता है कि बसपा अध्यक्ष मायावती कह रही हैं कि श्री नरेंद्र मोदी जी ने आपको फ्री में राशन दिया है, आपको ये कर्ज़ इस चुनाव में वोट के रूप में अदा करना है। बीजेपी को वोट देकर आपको ये कर्ज़ अपना अदा करना है। सोशल मीडिया पर ये वीडियो वायरल हो रहा है जिसके बाद लोग दावा कर रहे हैं कि बसपा अध्यक्ष मायावती ने पीएम मोदी को जीताने की अपील की है… मामला गंभीर है इसलिए हमने भी इस वीडियो की जांच की औैर इसका फैक्ट चेक करने की कोशिश… जो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, वो असल में यूपी के आगरा में हुई बहनजी की रैली का है। बहनजी ने आगरा की रैली में मोदी के फ्री राशन की बात कही थी लेकिन हकीकत ये है कि जो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, वो आधा-अधूरा है। इस वीडियो का एक हिस्सा काटकर उसे गलत संदेश के साथ वायरल किया जा रहा है।

बहनजी तो ये कह रही हैं कि मोदी की ओर से मिल रहा राशन कोई एहसान नहीं है बल्कि आपके दिए हुए टैक्स के पैसे से ही राशन दिया गया है लेकिन कुछ लोगों ने इस बयान का एक हिस्सा काटकर उसे वायरल कर दिया और ये फेक न्यूज़ फैलाने की कोशिश की कि देखो बहनजी भी मोदी को ही जिताना चाहती हैं।

इस बारे में खुद बहन कुमारी मायावती ने भी ट्विटर पर लिखा और इस फेक न्यूज़ का खंडन किया। मायावती ने ट्विटर पर लिखा, सर्वविदित है कि आज आगरा की विशाल चुनावी जनसभा सहित अपनी सभी जनसभाओं में केन्द्र द्वारा थोड़ा फ्री राशन देकर वोट माँगने की चुनावी चाल की निन्दा करती हूँ कि यह कोई उपकार नहीं बल्कि यह लोगों के टैक्स का ही धन है जो जनता पर खर्च हो रहा है। अतः ऐसे हथकण्डों से सावधानी जरूरी। फिर भी अब इसको लेकर पूरी तरह से गलत व फेक वीडियो बनाकर भाजपा के पक्ष में प्रचारित करने का  बेहद अनुचित राजनीतिक प्रयास किया जा रहा है, जिसके सम्बंध में पुलिस व चुनाव आयोग को भी तत्काल सख्त कानूनी कार्रवाई करने की जरूरत।

यानी खुद बहनजी ने भी इस फेक न्यूज़ का भंडाफोड़ कर दिया लेकिन अभी तक इस मामले में किसी की गिरफ्तारी या कोई कानूनी कदम उठाने की खबर सामने नहीं आई है जबकि दूसरी ओर गृहमंत्री अमित शाह के आरक्षण पर वायरल हुए फेक वीडियो के मामले में तेलंगाना के मुख्यमंत्री तक को समन भेजे जा रहे हैं लेकिन बहनजी के केस में ना ही पुलिस और ना ही चुनाव आयोग ऐसी कोई तेज़ी दिखा रहा है। ऐसे में बहुजन समाज की जिम्मेदारी है कि वो इस झूठ से पर्दा उठाए… इसलिए हमारी आपसे अपील है कि इस खबर को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक शेयर करें।

  telegram-follow   joinwhatsapp     YouTube-Subscribe

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here