Home बहुजन इतिहास माता फातिमा शेख को गूगल ने दिया सम्मान, दुनिया में बजा पहली...

माता फातिमा शेख को गूगल ने दिया सम्मान, दुनिया में बजा पहली मुस्लिम शिक्षिका के नाम का डंका

माता फातिमा शेख भारत की पहली शिक्षिका सावित्रीबाई फुले की परम सहयोगी थीं।

430
0
blank
Doodle by Google

भारत की पहली मुस्लिम शिक्षिका और लड़कियों के लिए पहले स्कूल की को-फाउंडर माता फातिमा शेख की आज जयंती है। 9 जनवरी 1831 को महाराष्ट्र के पुणे में उनका जन्म हुआ था। महान शिक्षाविद फातिमा शेख की जयंती पर गूगल की ओर से उन्हें सम्मान दिया गया है। आज गूगल ने फातिमा शेख पर शानदार डूडल बनाकर उन्हें याद किया है। आज दुनिया भर में फातिमा शेख के नाम का डंका बज रहा है।

कौन थीं फातिमा शेख ?

माता फातिमा शेख भारत की पहली शिक्षिका सावित्रीबाई फुले की परम सहयोगी थीं। फातिमा शेख सावित्रीबाई फुले के साथ ही लड़कियों के लिए खोले गए स्कूलों में पढ़ाया करती थीं। फातिमा जोतिबा फुले के मित्र उस्मान शेख की बहन थीं। जब जोतिबा के पिता गोविंदराव ने ब्राह्मणवादियों के बहकावे में आकर उन्हें घर से निकाल दिया था, तब उस्मान शेख और फातिमा शेख ने ही फुले दंपति को अपने घर में आश्रय दिया था।

आगे चलकर जब राष्ट्रपिता जोतिबा फुले और क्रांतिज्योति माता सावित्रीबाई फुले ने 1848 में देश में लड़कियों के लिए पहला स्कूल खोला तो फातिमा शेख और उस्मान शेख ने उनका भरपूर साथ दिया। फातिमा शेख के बारे में और ज्यादा जानकारी हासिल करने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक कर वीडियो देखें।

 

 

  telegram-follow   joinwhatsapp     YouTube-Subscribe

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here