Home ट्रेंडिंग ट्रेंडिंग : ऑनलाइन क्लास में IIT प्रोफेसर ने दी दलित छात्रों को...

ट्रेंडिंग : ऑनलाइन क्लास में IIT प्रोफेसर ने दी दलित छात्रों को गालियां, फेल करने की धमकी दी !

ऐसे जातिवादी टीचर्स पर तुरंत कार्रवाई होनी चाहिए क्योंकि ऐसे लोग जाने कितने ही बच्चों का भविष्य बर्बाद कर देते हैं।

462
0
blank
www.theshudra.com (Photo-IIT Kharagpur)

आपका सहयोग हमें सशक्त बनाएगा

# हमें सपोर्ट करें

Rs.100  Rs.500  Rs.1000  Rs.5000  Rs.10,000

ट्रेंडिंग : पूरा देश कोरोना महामारी से जूझ रहा है लेकिन ऐसे मुश्किल वक्त में भी कुछ लोग जातिवाद करने से बाज़ नहीं आ रहे। आज सोशल मीडिया पर ऑनलाइन क्लासेज़ की वीडियो क्लिप वायरल हुई, दावा किया जा रहा है कि ये वीडियो क्लिप IIT खड़गपुर की ऑनलाइन क्लास की है। इन वीडियो क्लिप में एक महिला टीचर छात्रों को बुरी तरह गालियां दे रही है और नंबर काट कर फेल कर देने की धमकी देते हुए सुनाई दे रही है।

दलित छात्रों के खिलाफ दिखी नफरत

सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि IIT खड़गपुर की प्रोफेसर सीमा सिंह ने SC-ST और PwD छात्रों को अंग्रेज़ी सिखाने वाली क्लास में ना सिर्फ गालियां दी बल्कि अपनी जातिवादी कुंठा को भी जाहिर किया। देखते ही देखते वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। फिलहाल #End_Casteism_In_IIT ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा है और लोग आरोपी प्रोफेसर के खिलाफ SC-ST एक्ट की धाराओं में केस दर्ज करने की मांग कर रहे हैं।

टॉप ट्रेंड में #End_Casteism_In_IIT

वरिष्ठ पत्रकार दिलीप मंडल ने इस बारे में लिखा ‘जो प्रोफ़ेसर SC-ST स्टूडेंट्स को “Bloody Bastards” बोलकर खुलेआम ऑनलाइन क्लास में गाली देगी, उन्हें जाति के आधार पर बेइज्जत करेगी, वह क्या इन स्टूडेंट्स को प्रैक्टिकल और एसाइनमेंट में पास होने देगी? #End_Casteism_In_IIT

बॉलीवुड से भी उठी कार्रवाई की मांग

मसान और गिली पुच्ची जैसी मशहूर फिल्में बना चुके फिल्म डायरेक्टर नीरज घेवन ने IIT खड़गपुर के डायरेक्टर विरेंद्र तिवारी को टैग करते हुए तुरंत एक्शन की मांग की।

लोग कह रहे हैं कि ऐसे ही जातिवादी प्रोफेसरों की वजह से रोहित वेमुला और पायल तड़वी जैसे छात्र-छात्राएं सुसाइड करने को मजबूर हो जाते हैं।

 

एक दूसरे क्लिप में कथित प्रोफेसर एक छात्र को इसलिए बुरा-भला कह रही हैं क्योंकि छात्र ने अपने दादा की मौत के बाद कुछ दिन क्लास में ना आने की बात कही थी।

ऐसे जातिवादी टीचर्स पर तुरंत कार्रवाई होनी चाहिए क्योंकि ऐसे लोग जाने कितने ही बच्चों का भविष्य बर्बाद कर देते हैं।

ब्यूरो रिपोर्ट, द न्यूज़बीक

  telegram-follow   joinwhatsapp     YouTube-Subscribe

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here