Home भारत जयंती विशेष : पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान को यूं किया गया...

जयंती विशेष : पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान को यूं किया गया याद

रामविलास पासवान की जयंती पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत कई दूसरे नेताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की है

671
0
blank

पूर्व केंद्रीय मंत्री और एलजेपी के संस्थापक रामविलास पासवान की जयंती के अवसर पर उनको याद करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत कई दूसरे नेताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की है।

रामविलास पासवान का सफरनामा

रामविलास पासवान का जन्म 5 जुलाई 1946 को बिहार के जिला खगड़िया के फरकिया गांव में हुआ था। उनका निधन 8 अक्टूबर 2020 को पिछले साल हो गया था। पासवान 52 साल पहले 1969 में 23 साल की उम्र में DSP और MLA एक साथ बने थे। 1977 में रामविलास पासवान ने हाजीपुर सीट से कांग्रेस उम्मीदवार को सवा चार लाख वोटों से शिकस्त दी थी, इस जीत ने उन्हें दलितों का आइकन बना दिया था। उन्होंने अपने 50 साल के राजनीतिक जीवन में सिर्फ दो बार हार झेली है। पासवान नौ बार सांसद बने थे। उन्होंन 2002 में NDA को छोड़ दिया था। पासवान 2014 में बीजेपी सरकार में केंद्रीय मंत्री बने।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दी श्रद्धांजलि

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा कि, आज मेरे दोस्त रामविलास पासवान जी की जयंती हैं। मैं उनकी आज भी कमी महसूस करता हूं। वह देश के सबसे अनुभवी सांसदों, राजनेताओं में से एक थे। जन सेवा और दलितों को सशक्त बनाने में उनके योगदान को हमेशा याद किया जाएगा

तेजस्वी ने किया रामविलास पासवान को याद

RJD के सिल्वर जुबली कार्यक्रम में तेजस्वी यादव ने रामविलास पासवान को याद करते हुए उन्हें नमन किया। उन्होंने कहा ‘मैं रामविलास पासवान को नमन करता हूं। आज उनका जन्मदिन है और वो मेरे पिता के साथी थे। उन्होंने साथ संघर्ष किया और मुझे दुख है कि आज वो हमारे बीच नहीं हैं।’

 

राजनाथ सिंह ने पासवान को किया याद 

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर कहा कि, स्वर्गीय रामविलास पासवान जी के निधन बाद आज उनकी पहली जयंती के अवसर पर मैं उनकी स्मृतियों को नमन करता हूँ। स्वभाव से सरल और सहज रामविलासजी ने आजीवन गरीब, दलित और कमजोर वर्गों के कल्याण के लिए काम किया। उनकी जयंती के अवसर पर मैं उन्हें अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूँ

एलजेपी के राष्ट्रीय महासचिव चंदन सिंह ने ट्वीट कर लिखा कि, लोक जनशक्ति पार्टी के जनक सामाजिक क्रांति के पुरोधा, अपने जीवन को पूर्णतया न्योछावर करके, समानता और मानवता के लिए लड़ाई लड़ने वाले ,अछूतो पिछडो वंचितो गरीबो के हक अधिकारो की लड़ाई लड़ने वाले। हमारे अभिभावक स्वर्गीय राम विलास पासवान जी की जयंती पर सादर नमन

https://twitter.com/ChandanSinghMP/status/1411906728958980099

समाजवादी लोहिया वाहिनी के प्रदेश अध्यक्ष रामकरन निर्मल ने अपने ट्वीट में लिखा, राजनितिक रूप से दलित, पिछड़ों में एका कायम कर समंती व्यवस्था से लड़ने वाले, ओबीसी आरक्षण आंदोलन के नायक रामविलास पासवान की जयंती पर उन्हें शत् शत् नमन

रामविलास पासवान ने जिस लोक जनशक्ति पार्टी की मजबूती से नींव रखी थी आज वही पार्टी चाचा-भतीजे के बीच चल रही सियासी जंग की वजह से दो गुटों में बंट चुकी है। चाचा-भतीजे दोनों रामविलास पासवान की जयंती अलग-अलग मना रहे है। चिराग पासवान पिता की जयंती हाजीपुर में तो भाई सांसद पशुपति कुमार पटना में समारोह आयोजित कर रहे हैं।

  telegram-follow   joinwhatsapp     YouTube-Subscribe

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here