Home भारत शिवराज के शिक्षा मंत्री बोले, ‘मरना है तो मर जाओ, फीस माफ...

शिवराज के शिक्षा मंत्री बोले, ‘मरना है तो मर जाओ, फीस माफ नहीं होगी’

कांग्रेस की ओर से शेयर किए गए वीडियो में कई अभिभावक आरोप लगा रहे हैं कि शिक्षा मंत्री ने उन्हें मरने की सलाह दी है।

997
0
blank
www.theshudra.com

मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार पर कांग्रेस ने शिक्षा व्यवस्था को लेकर एक बार फिर हमला बोला है। एमपी कांग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार की एक वीडियो डाली है, जिसमें नेता जी बच्चों के अभिभावकों के साथ असभ्य बर्ताव करते नजर आ रहे हैं।

अभिभावकों को दी मरने की सलाह 

कांग्रेस ने ट्वीट में लिखा कि, स्कूली बच्चों के पिता से बोले मंत्री, मरना है तो मर जाओ, फीस माफ नहीं होगी। महामारी में बच्चों की फीस माफ करने की गुहार लगाने अभिभावक स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार के बंगले पर पहुंचे तो आपके अहंकारी मंत्री ने मरने का सुझाव दिया। शिवराज जी, आप भी याद रखना, हम भी याद रखेंगे।

बिना पढ़ाई के वसूली जा रही है फीस

आपको बता दें कि सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना की संभावित तीसरी लहर से बच्चों को बचाने के लिए 01 जुलाई से स्कूल ना खोलने का लिया निर्णय लिया था, साथ ही कहा था कि अभी ऑनलाइन और टीवी के जरिए पढ़ाई जारी रहेगी। जिसके बाद बच्चों के अभिभावकों से 01 अप्रैल से ऑनलाइन पढ़ाई के लिए फीस वसूली जा रही है लेकिन अभी तक बच्चों को किसी प्रकार की शिक्षा उपलब्ध नहीं कराई गई है। जब बच्चों के माता-पिता स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार के घर पहुंचे तो वहां उनको मंत्री जी ने कहा कि “मरना है तो मर जाओ, फीस माफ नहीं होगी”।

  telegram-follow   joinwhatsapp     YouTube-Subscribe

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here