Home भारत दलितों के बाल काटने पर नाई का हुक्का पानी बंद, 50,000 हज़ार...

दलितों के बाल काटने पर नाई का हुक्का पानी बंद, 50,000 हज़ार का जुर्माना भी ठोका !

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक़ नाई मल्लिकार्जुन शेट्टी को गाँव वाले बुरी तरह प्रताड़ित कर रहे हैं।

1177
0
blank
जातिवादी गुंडोें ने नाई पर 50 हज़ार रुपये का भारी भरकम जुर्माना भी ठोक दिया (Photo-Internet)

आपका सहयोग हमें सशक्त बनाएगा

# हमें सपोर्ट करें

Rs.100  Rs.500  Rs.1000  Rs.5000  Rs.10,000

देश में अब जातिवाद नहीं होता, अब सब एक बराबर हैं। ऐसा कहने वाले लोगों के मुँह पर ये तस्वीरें ज़ोरदार तमाचे की तरह हैं। कर्नाटक से आई ये तस्वीरें बताती हैं कि कैसे इस देश में जातिवाद लोगों की रगो में दौड़ रहा है।

दलितों के बाल काटने पर नाई का हुक्का-पानी बंद

कर्नाटक के मैसूर ज़िले के हल्लारे गाँव में एक नाई का हुक्का पानी इसलिए बंद कर दिया गया क्योंकि उसने गाँव के दलितों के बाल काट दिए थे। यही नहीं गाँव के जातिवादी गुंडोें ने नाई पर 50 हज़ार रुपये का भारी भरकम जुर्माना भी ठोक दिया।

 

खुदकुशी करने को मजबूर है परिवार

The barber from Nanjangud taluk​ मल्लिकार्जुन शेट्टी के मुताबिक़ ‘ये मेरे साथ तीसरी बार हो रहा है। मैं पहले भी जुर्माना भर चुका हूँ। चन्ना नाइक और उसके साथी मुझे इसलिए टॉर्चर कर रहे हैं क्योंकि मैंने दलित समुदाय के लोगों के बाल काट दिए थे। अगर इस समस्या का हल नहीं निकला तो मेरे और मेरे परिवार को ख़ुदकुशी करनी पड़ेगी। मैंने अफ़सरों को भी शिकायत की है।’

आज़ादी के इतने सालों बाद भी दलित समुदाय को छुआ-छूत और सामाजिक भेदभाव सहना पड़ रहा है। लेकिन कंगना रनौट ज़ैसे जातिवादी लोग ये कहते नहीं थकते कि अब मॉडर्न इंडिया में जातिवाद नहीं होता।

ब्यूरो रिपोर्ट, द शूद्र

  telegram-follow   joinwhatsapp     YouTube-Subscribe

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here