Home भारत भक्ति की चरम सीमा : आज तक ने PM मोदी के खिलाफ...

भक्ति की चरम सीमा : आज तक ने PM मोदी के खिलाफ ट्वीट करने पर पत्रकार श्याम मीरा सिंह को नौकरी से निकाला !

आज तक (इंडिया टुडे ग्रुप) के पत्रकार श्याम मीरा सिंह को प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ ट्वीट करने के लिए चैनल से निकाला।

1540
0
blank
www.theshudra.com

मीडिया संस्थानों में अगर आप सरकार की जी हुज़ूरी करते हैं तो आपकी नौकरी सुरक्षित है और अगर आप सत्ता के खिलाफ आवाज उठाते हैं तो आपको अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ सकता है। इसका ताजा नमूना फिर से देखने को मिला है, जहां एक पत्रकार को चैनल ने नौकरी से निकाल दिया है।

मोदी के खिलाफ आवाज उठाने की मिली सजा

आज तक (इंडिया टुडे ग्रुप) के पत्रकार श्याम मीरा सिंह को प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ ट्वीट करने के लिए चैनल से निकाल दिया गया है। श्याम मीरा सिंह ने इस बारे में अपने ट्विटर अकाउंट के ज़रिए जानकारी दी।

श्याम मीरा सिंह लिखते हैं, प्रधान मंत्री मोदी पर ये दो ट्वीट लिखने के लिए मुझे अपने चैनल आज तक (इंडिया टुडे ग्रुप) से निकाल दिया गया है।

https://twitter.com/ShyamMeeraSingh/status/1416969187147145216

यहां से शुरू हुआ पूरा मामला

आपको बता दे कि पत्रकार दानिश की मौत पर श्याम मीरा सिंह ने ट्वीट किया था। जिसमें उन्होंने लिखा, पूरी दुनिया से सलाम आए, लेकिन भारत के प्रधानमंत्री ने दानिश के लिए एक शब्द नहीं कहा, ये बात, इस बात के सबूत के रूप में दर्ज की जाए कि दानिश ने अपने जीवन भर पत्रकारिता की, सरकार की दलाली नहीं की।

उन्होंने इसके बाद प्रधान मंत्री मोदी के खिलाफ अपनी आवाज मुखर करते हुए दो ट्वीट किए थे

ट्रोल्स ने आजतक से पूछा था, इसे हटाते क्यों नहीं ?

श्याम मीरा सिंह अपने एक ट्वीट में लिखा, यहाँ ट्विटर पर कुछ लिखता हूँ तो कुछ लोग मेरी कंपनी को टैग करने लगते हैं. कहते हैं इसे हटाओ, इसे हटाते क्यों नहीं.. मैं अगला ट्वीट और अधिक दम लगाकर लिखता हूँ. पर इसे लिखने से पीछे नहीं हटूँगा कि Modi is a shameless Prime Minister.

मोदी करें प्रधानमंत्री पद का सम्मान – श्याम मीरा

उन्होंने अपने अगले ट्वीट में लिखा, कौन कहता है प्रधानमंत्री का सम्मान है, लोगों को मोदी से कहना चाहिए कि पहले वो प्रधानमंत्री पद का सम्मान करें।

उन्होंने अपना टर्मिनेशन लेटर साझा करते हुए कहा कि, “मैं बार-बार दोहराना चाहता हूं कि हां मोदी बेशर्म प्रधानमंत्री हैं”

लोकतंत्र का चौथा खंभा होने का दम भरने वाला मीडिया किस तरह से सरकार के सामने घुटने टेक चुका है, इसकी बानगी पर श्याम मीरा सिंह पर हुई कार्रवाई से लगा सकते हैं। आज तक श्याम के ट्वीट्स को अपनी डिजिटल गाइडलाइंस और कोड ऑफ कंडक्ट के खिलाफ बताते हुुए उन्हें नौकरी से निकाल दिया।

कभी मोदी भक्त हुआ करते थे श्याम मीरा सिंह

श्याम उन नौजवानों में शुमार रहे हैं जो 2014 में मोदी के सबसे बड़े भक्त हुआ करते थे। श्याम खुद ये बात कई मंचों पर बता चुके हैं कि कैसे वो मोदी को देश का सबसे बढ़िया नेता मानते थे और संघी मानसिकता के कारण विरोधियों से नफरत करते थे। लेकिन जैसे-जैसे उन्हें ये एहसास हुआ कि मोदी ने सिर्फ चुनाव जीतने के लिए लोगों को अच्छे दिनों के सपने दिखाए, वो मोदी से दूर होते चले गए।

 

  telegram-follow   joinwhatsapp     YouTube-Subscribe

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here