Home Caste Violence जातिवाद : ढोल बजवाकर दलितों पर 5 हज़ार का जुर्माना और 50...

जातिवाद : ढोल बजवाकर दलितों पर 5 हज़ार का जुर्माना और 50 जूते मारने की मुनादी करवाई

यूपी के मुज़फ्फरनगर में खुलेआम मुनादी करवाकर चमार जाति के लोगों को धमकाने का मामला सामने आया है।

260
0
blank
मुजफ्फरनगर के पावटी खुर्द गांव में मुनादी कराकर दलित समाज के लोगों को धमकी देने का वीडियाे वायरल हुआ है।

कुछ लोग कहते हैं कि आजकल जातिवाद नहीं होता लेकिन हमारे देश में जातिवाद कितना गहरा है, इस खबर से आप अंदाज़ा लगा सकते हैं। यूपी के मुज़फ्फरनगर में खुलेआम मुनादी करवाकर चमार जाति के लोगों को धमकाने का मामला सामने आया है।

क्या है पूरा मामला ?

दरअसल यूपी के मुज़फ्फरनगर जिले के पावटी खुर्द गांव में राजबीर सिंह नाम के एक घटिया जातिवादी गुंडे ने गांव में ढोल बजवाकर मुनादी करवाई कि अगर कोई चमार जाति का व्यक्ति उसके डोल, समाधि या ट्यूबवेल पर दिखा तो उसपर 5 हज़ार रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा और 50 जूते मारे जाएंगे। इस मुनादी का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

भीम आर्मी चीफ ने साझा किया वीडियो

पावटी खुर्द गांव में जातिवादियों की इस घिनौनी हरकत का वीडियो भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आज़ाद ने शेयर किया। उन्होंने खुद पावटी खुर्द जाने का एलान भी कर दिया है। उन्होंने लिखा ‘यूपी के ज़िला मुज़फ़्फ़रनगर के गाँव पावटी खुर्द में खुलेआम मुनादी हो रही है कि “कोई भी ‘चमार’ उसकी डोल,समाधि,ट्यूबवेल पर दिख गया तो 5 हजार रुपए जुर्माना और 50 जूते होंगे! हिंदू बनने का जिनको शौक़ चढ़ा था, उन्हें अब समझ आ गया होगा। वैसे इनकी गलतफहमी दूर करने मैं जल्द पावटी जाऊंगा।’

पुलिस ने घटिया जातिवादी गुंडे को गिरफ्तार किया 

मुज़फ्फरनगर पुलिस की ओर से जारी किए गए बयान में बताया गया है कि आरोपी राजबीर सिंह और उसके साथी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। पुलिस ने इस घटिया मानसिकता वाले जातिवादी गुंडे के खिलाफ गुंडा एक्ट के तहत कार्रवाई करने की भी बात की है।

आखिर कब तक चलेगा ये जातिवादी खेल ?

इस वीडियो ने फिर से दलित समाज के प्रति जातिवादियों के दिमाग में भरी गंदगी को सबके सामने लाकर रख दिया है। ये वीडियो सबूत है कि कैसे हमारे देश के जातिवादियों की रगो में लहू के साथ-साथ जातिवाद भी बह रहा है। ऐसे में सवाल उठता है कि आखिर कब तक इन घटिया मानसिकता वाले लोगों का ये घिनौना खेल चलता रहेगा। आखिर कब ऐसे लोगों पर लगाम लगेगी ?

  telegram-follow   joinwhatsapp     YouTube-Subscribe

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here