Home Caste Violence जातिवाद : जोमैटो डिलिवरी ब्वॉय से जाति पूछी, दलित बताया तो मुंह...

जातिवाद : जोमैटो डिलिवरी ब्वॉय से जाति पूछी, दलित बताया तो मुंह पर थूक दिया !

क्या इस घटिया जातिवादी हरकत के बाद भी कोई कह सकता है कि अब जातिवाद नहीं होता ?

251
0
blank
Photo Courtesy - Zomato

आजकल अक्सर लोगों को ये कहते हुए सुना जा सकता है कि अब कहां होता है जातिवाद? जाति भेद तो पुराने जमाने की बात है, जातिवाद होता होगा तो कहीं गांव-देहात में होता होगा, शहरों में अब कास्टिज़्म नहीं होता। लेकिन यूपी की राजधानी लखनऊ से एक ऐसी खबर आई है जिसने साबित कर दिया कि जातिवाद भारतीयों की रगों में लहू की तरह दौड़ता है।

जाति पूछकर मुंह पर थूक दिया – पीड़ित 

लखनऊ में ऑनलाइन खाना मंगाने वाले शख्स ने डिलिवरी ब्वॉय की जाति पूछी और आरोप है कि जब उसे पता चला कि खाना पहुंचाने आया लड़का दलित है तो उसने उसके मुंह पर थूक दिया और विरोध करने पर उसके साथ मारपीट की। पीड़ित युवक पर जानलेवा हमला किया गया जिसके बाद उसने पुलिस में शिकायत दर्ज़ करवाई है।

क्या इस घटिया जातिवादी हरकत के बाद भी कोई कह सकता है कि अब जातिवाद नहीं होता। क्या ऐसी सड़ी हुई मानसिकता को देखने के बाद भी कोई ये दिखावा कर सकता है कि शहरों में लोग सभ्य हो गए हैं और अब छूआछूत जैसी बीमारी नहीं है। अगर कोई ऐसा बोलता है तो वो या तो मूर्ख है या फिर सबसे शातिर है जो एक तरफ जाति को ना मानने का ढोंग करता है और दूसरी ओर हर चीज़ में बस जाति देखता है।

लोग आरक्षण को तो गालियां देने लगते हैं कि 70 साल से दलित-पिछड़े आरक्षण की मलाई खा रहे हैं लेकिन ऐसे घटिया लोग जातिवाद रूपी सांप का फन कुचलने की बात कभी नहीं करते। ये घटिया लोग ये नहीं कहते कि हज़ारों सालों से जिनके साथ हैवानियत की सारी हदें पार की जाती रही, उन्हें समाज में बराबरी का हक दिलाने के लिए आरक्षण जरूरी है।

अब जातिवाद नहीं है कहने वाले लोग अखबारों में पन्ने भर-भर कर अपने बेटे-बेटियों के लिए अपनी जाति-गोत्र का वर ढूँढने के लिए विज्ञापन देते हैं। अब कोई आपसे कहे कि जातिवाद नहीं होता तो उसे इस वीडियो का लिंक भेज देना, उसे खुद ही शर्म आ जाएगी।

  telegram-follow   joinwhatsapp     YouTube-Subscribe

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here