Home Caste Violence बिहार में जातिवाद : दलितों से थूक चटवाया और कान पकड़कर लगवाई...

बिहार में जातिवाद : दलितों से थूक चटवाया और कान पकड़कर लगवाई उठक-बैठक

औरंगाबाद में दलितों के साथ ऐसी बर्बरता की गई है कि जिसे सुनकर हर कोई हैरान रह जाए।

547
0
blank
(Photo - Utkarsh Singh)

औरंगाबाद : बिहार में एक बार फिर जातिवाद का घिनौना चेहरा बेनकाब हुआ है। बिहार के औरंगाबाद में दलितों के साथ ऐसी बर्बरता की गई है कि जिसे सुनकर हर कोई हैरान रह जाए। औरंगाबाद के सिंघना गांव में एक दलित मतदाताओं को थूक चटवाया गया।

जातिवादी गुंडों ने की सारी हदें पार 

सिंघना गांव के जातिवादी गुंडे बलवंत सिंह पर आरोप है कि उसने दलित वोटरों से थूक चटवाया और कान पकड़कर उठक-बैठक करवाई। पत्रकार उत्कर्ष सिंह की ओर से ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया गया है जिसमें इस पूरी वारदात को साफ-साफ देखा जा सकता है।

क्या है पूरा मामला ?

जानकारी के मुताबिक गांव में मुखिया का चुनाव हुआ था जिसमें बलवंत सिंह हार गया। बताया जा रहा है कि बलवंत सिंह ने गांव के कुछ दलितों पर पैसे लेकर भी उसे वोट ना देने का आरोप लगाकर पहले तो बुरी तरह ज़लील किया और फिर उनसे थूक चटवाया और कान पकड़कर उठक-बैठक भी लगवाई।

आरोपी को किया गया गिरफ्तार 

इंसानियत को शर्मसार कर देने वाली इस वारदात का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद बिहार पुलिस हरकत में आई और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। लेकिन इस वारदात के सामने आने के बाद नीतीश कुमार के सुशासन की पोल खोल खुल है। ये वीडियो गवाही देता है कि कैसे बिहार में दलित जाति के लोगों के साथ बर्बरता की सारी हदें पार की जा रही हैं और उनके साथ जानवरों से भी बदत्तर सलूक किया जा रहा है।

 

  telegram-follow   joinwhatsapp     YouTube-Subscribe

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here